Hindi Suvichar

Hindi Suvichar

सीमाए सिर्फ आपकी सोच में होती है

और सफलता हमेशा उन सीमाओं के

पार होती है जितना ज्यादा आपनी सोच

की सीमाओं के आगे बढ़ते सफलता उतनी

ही पास आएगी

अच्छाइयों का एक-एक तिनका चुन-चुनकर;
जीवन भवन का निर्माण होता है,
पर बुराई का एक हलका झोंका ही;
उसे मिटा डालने के लिए पर्याप्त होता है

किसी की अच्छाई का
इतना फायदा मत उठाओ कि
वह बुरा बनने के लिए मजबूर हो जाए

गलती उसी से होती है;
जो काम करता है;
निकम्मों की जिंदगी तो;
दूसरों की बुराई खोजने में ही;
ख़त्म हो जाती है

Leave a Reply

Your email address will not be published.