Love Shayari 2017-18

Love Shayari 2017-18

पहली मोहब्बत मेरी हम जान न सके

प्यार क्या होता है हम पहचान न सके

हमने उन्हें दिल में बसा लिया इस कद्र की

बज चाहा उन्हें दिल से निकल न सके

Leave a Reply

Your email address will not be published.