Hindi Suvichar 2018

Hindi Suvichar 2018

प्रत्यक कार्य अपने समय पर होता है

जेसे पोधो में फुल और

फल अपने समय पर आते है

बोल सको तो मीठा बोलो, कटु बोलना मत सीखो
बता सको तो राह बताओ, पथ भटकाना मत सीखो
जला सको तो दीप जलाओ, हृदय जलाना मत सीखो-
कमा सको तो पुण्य कमाओ, पाप कमाना मत सीखो
लगा सको तो बाग लगाओ, आग जलाना मत सीखो
छोड़ सको तो सब छोड़ो, चरित्र छोड़ना मत सीखो
पा सको तो प्यार पाओ, तिरस्कार पाना मत सीखो-
रख सको तो विद्या रखो, बुराई रखना मत सीखो
पोंछ सको तो आसूं पोंछो, दिल को दुखाना मत सीखो-
हंसा सको तो सबको हँसाना, किसी पर हँसाना मत सीखो-
दे सको तो दया-दान दो, ईमान बेचना मत सीखो
खिल सको तो फूलों की तरह, कांटों में चुभना मत सीखो
उठा सको तो पर्वत की तरह, दल-दल में गिरना मत सीखो
कठिन समय में धैर्य से काम लों, उसे गवाना मत सीखो
ला सको तो अच्छाई लाओ, बुराई को लाना मत सीखो. 🙂

Leave a Reply

Your email address will not be published.