Love Shayari

Love Shayari

 

ऐ काश कोई खुशियो की दुकान होती 

और मुझे उसकी पहचान होती खरीद 

लेता आपके लिए हर एक ख़ुशी चाहे 

उसकी कीमत मेरी जान होती 

                     बहारें जब खिलती हैं तब फूल खिलते जाते हैं,
                     इश्क जवां होता है और दो दिल मिलते जाते हैं,
        इश्क की राह भी बहुत अजीब होती है,
                        आंखों से लफ्ज़ बयां होते हैं और होंठ सिल जाते हैं

 

तू पास नही फिर भी तुझे ही ये दिल चाहता है,
तेरी तस्बीर को सीने से लगा के ये दिल रोता है,
तुझे याद करके तड़प ये दिल जाता है,
खुदा से तो बस तुझे मांग ये दिल लेता है

अगर वो हमें याद रखते हैं तो हम पर खुदा की इनायत होगी,
अगर वो हमें भूल गए तो हम पर हर लम्हे की शिकायत होगी,
हम शिक़वा करें भी तो किससे ये ज़माना वेबफा है,
और अगर तू हमे भूल भी जाए तो क्या रिवायत होगी

तेरे साये को दिल मे दबाये चलते हैं,
तेरी याद को दिल मे छिपाए चलते हैं,
जिस दिन उससे मुलाकात न हो,
उस दिन सांसो के गुल मुरझाये चलते हैं

                   उसकी झील सी आंखों में डूब जाने का दिल करता है,
      उसके प्यार में तबाह होने का दिल करता है,
 कदम वहक रहे हैं और दिल धड़क रहा है,
            उसकी तो मोहब्बत में मिट जाने का दिल करता है

लगता है कुछ नसा तो आपकी बातों का है,
लगता है कुछ नसा तो बरसातों का है,
नसा चाहे कैसा भी हो लेकिन,
मेरे दिल पर नसा तो सिर्फ तेरी मुलाकातों का है

ये दिन दिन को कभी उपहार नही दिया करता हैं,
ये फूल फूल को कभी उपहार दिया नही करता हैं,
चाहत तो मेरी तुझे चाँद तोड़ कर देने की है,
लेकिन चाँद चाँद को कभी उपहार दिया नही करता है

दर्द महसूस करना है तो ये दिल लगा के देखो,
इन निगाहों में किसी को बसा के तो देखो,
उनके छोटे से दर्द को भी तुम सह न पाओगे,
एक बार इश्क के दरिया में नहा के तो देखो

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.